Lisa: Hello Guruji, how are you doing? I hope you are doing fine I wanted to know about your experience when you were in samadhi. Could you please explain it? I would be very thankful.

Swami Ram Swarup: Dear daughter about samadhi openly cannot be described. In special cases the said matter can be explained personally. My blessings to you my daughter.

तेजस्विनी: प्रणाम गुरु जी, गुरु जी, मेरा नाम तेजस्विनी है, गुरुजी आपकी कृपा से मैं रोज यज्ञ करती हूँ, यूट्यूब में लाइव देख कर, और शाम को भी हवन करती हूँ। मुझे यज्ञ/हवन करने में बहुत खुशी होती है।

मैं आपकी पुस्तक संध्या मंत्र भी पढ़ती हूँ। गुरु जी, मुझे यह पूछना था कि ईश्वर निराकार क्यों है, वह साकार क्यों नहीं हो सकता । क्या ईश्वर शरीर धारण नहीं कर सकता ?

आपकी बेटी तेजस्विनी

प्रणाम गुरु जी

Swami Ram Swarup: Beti mera aapko bahut ashirwad. Agar Ishwar sakar ho jaye to sarv-vyapak (omnipresent) nahi ho sakta aur is prakar dushton se sajjanon ki raksha bhi nahi kar sakta ityadi.

Ved Mandir

FREE
VIEW